Health Tips

Yoga Benefits Of Yoga योग तथा योग के फायदे

योग क्या है,योग की परिभाषा,योग के प्रकार तथा योग के फायदे

आज के Blog में हम योग के बारे में बात करेंगे ! जिसमे हम योग के इतिहास के साथ साथ योग के फायदे तथा योग के कुछ नियमो का भी जिक्र किया गया है ! इस Blog को पढ़ने के बाद आपको योग से सम्बंधित कुछ सवालो के जवाब मिल जायेंगे !

Yoga Benefits Of Yoga (योग तथा योग के फायदे )

yoga

योग क्या है:-

योग का शाब्दिक अर्थ होता है जुड़ना या मिलना ! लेकिन इसका अगर हम व्यवहारिक मतलब निकले तो इसका मतलब बहुत ही बड़ा है क्यूंकि इसकी सभी क्रियाए मनुष्य को शारीरिक तथा मानसिक रूप से मजबूत बनती है !

योग की परिभाषा:-

पतंजलि के अनुसार:- चित की वृतियो का निदान ही योग कहलाता है !
योग वशिष्ठ के अनुसार :- संसार सागर से पार होने के उपाय को ही योग कहते है !
वेदांत के अनुसार:- आत्मा का परआत्मा से पूर्ण मिलन ही योग कहलाता है !
इन सभी परिभाषाओ में चाहे शब्द अलग अलग क्यों न हो लेकिन मतलब एक ही है ! शरीरिक तथा मानसिक रूप से मजबूत होना !

योग क्या है,योग की परिभाषा,योग के प्रकार तथा योग के फायदे

योग क्या है,योग की परिभाषा,योग के प्रकार तथा योग के फायदे

योग के प्रकार:- योग को प्राचीन ग्रंथो में अलग अलग प्रकार का बताया गया है लेकिन मुख्य रूप से इसको चार भागो में बाँटा गया है !

1.राज योग (अष्टांग योग):- यह योग का सबसे मुख्य प्रकार है तथा इसके आठ अंग है:- यम, नियम, आसन, प्राणायाम ,धारण, प्रत्याहार, ध्यान और समाधी !
2.कर्म योग:- यह दूसरे प्रकार का योग है जिसके अनुसार आज किये जाने वाले कार्य का भविष्य में परिणाम निकलेगा, ये हमारे कर्मो पर ही निर्भर करता है !
3.भक्ति योग:- ये हमे भक्ति मार्ग के बारे में बताते है !
4.ज्ञान योग:- यह सबसे कठिन प्रकार का योग होता है क्यूंकि इसमें ध्यान के मार्ग पर चलना होता है जिसके लिए संयम और सामर्थ्य की जरुरत होती है !

योग के फायदे:-

1.नियमित रूप से योग करने से विभिन्न रोगो से मनुष्य बचा रहता है !
2.नियमित रूप से योग करने पर मनुष्य का शरीरिक स्वस्थ्य ठीक रहता है तथ मनुष्य की उम्र भी बढ़ती है !
3.योग को करने से ध्यान लगाने की क्षमता का विकास होता है !
4.योग को करने से इंसान सकारात्मक सोच वाला बनता है !
5.योग को करने से व्यक्ति नकारात्मक नहीं सोचता तथा अपनी जिंदगी में सफलता की तरफ आगे बढ़ता रहता है !
योग को करने से इंसान को अनगिनत लाभ है बशर्ते योग को अपनाया जाए ! इससे मनुष्य सकारात्मक सोच वाला तथा तर्क-वितर्क करने वाला बनता है !

योग के नियम:-

1.किसी अध्यापक के निर्देशन में ही योग करना चाहिए !
2.सूर्य अस्त या सूर्य उदय के समय ही योग करना चाहिए !
3.योग को साफ़ जगह तथा साफ़ वातावरण में ही करना चाहिए !
4.योग को करते समय आरामदायक कपड़े पहनने चाहिए !
5.योग को खाली पेट करना चाहिए !

योग का इतिहास:-

योग भारतीय संस्कृति की एक महत्वपूर्ण विरासत है जिसका इतिहास लगभग 10,000 वर्षो पुराना है ! जिसका जिक्र हमें बहुत से पुराने ग्रंथो में मिलता है और तो और इसका जिक्र हमें बहुत से प्राचीन सभ्यताओं में भी मिलता है जैसे हड़प्पा सभ्यता में ! इस सभ्यता में एक मुहर मिली है जिसका नाम है पशुपति मुहर है! जिसमे एक व्यक्ति योग की आकृति में बैठा हुआ मिलता है जिससे पता चलता है की इस सभ्यता में लोगो को योग के बारे में पता था !

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस:-

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने का प्रस्ताव भारतीय प्रधानमन्त्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने 27 सितम्बर 2014 को UNO की आम सभा में प्रस्तुत किया तथा कुछ ही समय बाद 11दिसंबर 2014 को 177 देशो के व्यापक समर्थन के बाद 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मान्यता दे दी गई !

योग के प्रमुख गुरु:-

1.महर्षि पतंजलि
2.श्री अरविंदो
3.स्वामी विवेकानंद
4.परमहंस योगनंद
5.योग वशिष्ठ
6.बाबा राम देव

Leave a Comment

13 Comments