Science Facts

Techyons | प्रकाश से भी तेज़ गति से चलने वाले कण

techyons in hindi

दोस्तों आज हम बात करने जा रहे है एक ऐसे particle की जिसे light से भी ज्यादा तेज़ माना जाता है ! वैसे तो हम सब यह जानते है की इस दुनिया में light से तेज़ कुछ नहीं है ,
पर आज हम आपको एक ऐसे पार्टिकल के बारे में बताएंगे जो प्रकाश से भी ज्यादा तेज़ travel करता है और उसका नाम है Techyon, तो आइये जानते है Techyons क्या है !

क्या है Techyon

techyons एक hypothentical यानी काल्पनिक particle है ! जो अगर कभी पाए गए तो इनकी speed light ( प्रकाश ) से भी तेज़ होगी ! hypothentical का मतलब होता है काल्पनिक, जो सिर्फ theory में ही होते है ! और जिनका वास्तव में कोई अस्तित्व ना देखा गया हो ! इसका मतलब अभी तक techyons का अस्तित्व सिर्फ theory में ही है , और अभी तक इसके होने का कोई सबूत नहीं है !

किसने दी Techyon की Theory ?

techyons की खोज का श्रेय जाता है भारत के थीं वैज्ञानिको को जिनका नाम है
1 ई. सी. जी. सुदर्शन (ecg sudarshan)
2 ओ. एम. पी. बिलान्युक (omp bilaniuk)
3 वी. के. देशपांडे (vk deshpandey)
साल 1962 में इन्होने इस particle के बारे में सबसे पहले बताया था और उस समय इन्होने इसे मेटा पार्टिकल (meta particle ) का नाम दिया!
इसके बाद वर्ष 1967 एक दूसरे जिनका नाम gerald feinberg था ! उन्होंने अपनी एक scientific paper में दूसरी बार इसका जिक्र किया जहाँ पर इन्होने इसे techyons कहा !

क्या सच में होते है techyons particle ?

बहुत से भौतिक शास्त्रियों का मानना है की techyons जैसी कोई चीज़ इस संसार में नहीं है ! लेकिन कुछ mathematical equations के मुताबिक इनका होना असंभव नहीं है ! इसलिए हम यह नहीं कह सकते की यह कभी future में भी exist नहीं करेंगे !

Expected properties of techyons

अगर हम कभी techyons को ढूँढ पाए तो उनके अंदर यह सारी properties होने की सम्भावना है !
1 उनका द्रव्यमान लम्बाई और और उनका जीवन चक्र काल्पनिक होगा !
2 जैसे जैसे की ऊर्जा कम होगी उसकी गति बढ़ेगी !
3 ऐसा भी माना जाता है की अगर हम techyons को खोज लेते है तो हम past में travel कर सकेंगे !

क्या होगा अगर techyons पाए गए तो

अगर हम कभी इसे खोज लेते है तो हम आसानी से इसकी गति का उपयोग करके time treveller बना सकते है जिसकी मदद से आप future में या past में जा सकेंगे !

Conclusion निष्कर्ष

अगर हम theoretically या mathematical equatios के मुताबिक देखे तो ऐसा कोई कारण नहीं है जिससे इसका होना असंभव हो ! क्युकी जिन चार विज्ञानिको ने इसकी theory दी है उन सभी ने इसे mathematical equatios से prove भी किया है ! लेकिन यह भी सच है की ज्यादातर भौतिक शास्त्रि यह मानते है की इसका होना असंभव है !

यह भी जाने :-
*क्या है Super Computer
*क्या है Bermuda Triangle का रहस्य

Leave a Comment

1 Comment