Make Money

Mutual Fund Kya Hai

mutual fund
Mutual fund kya hai

आपने तो कभी ना कभी या फिर कहीं न कहीं अक्सर म्यूच्यूअल फंड का जिक्र सुना ही होगा. परंतु शायद ही आपको पता होगा कि वास्तव में मैचुअल फंड होता क्या है ? लेकिन जो लोग थोड़ा बहुत भी मैचुअल फंड के बारे में जानते हैं, वह सिर्फ यह सोचते हैं, कि म्यूच्यूअल फंड भी शेयर मार्केट के जैसे जोखिम से भरा हुआ बाजार है. इसका मुख्य कारण केवल यह है, कि उनको म्यूच्यूअल फंड के बारे में सही तथा संपूर्ण रूप से जानकारी नहीं है. तो आइए जानते हैं इस लेख के माध्यम से की म्यूच्यूअल फंड्स क्या है? और इसमें किस- किस प्रकार का जोखिम होता है.

म्यूच्यूअल फंड क्या है (What is mutual fund)?

निवेशकों के द्वारा बड़ी बड़ी संख्या में पैसे को जमा करने को म्यूच्यूअल फंड्स कहते हैं. निवेशकों के द्वारा निवेश की गई संपूर्ण धनराशि को एक फंड के जरिए किसी भी जगहों पर निवेश किया जाता है. यह निवेश कई क्षेत्रों में हो सकता है . म्यूच्यूअल फंड्स के द्वारा या निरंतर प्रयास किया जाता है, कि निवेशकों के द्वारा निवेश की गई धनराशि को अधिक से अधिक मुनाफे के रूप में अपने निवेशकों को वापस करें. म्यूचुअल फंड में फंड को मैनेज करने का कार्य एक पेशेवर फंड मैनेजर करता है. सबसे दुर्भाग्य का कारण तो यह है, कि म्यूच्यूअल फंड्स हमारे देश में एक लंबे समय से मौजूद है. परंतु आज भी लोगों को म्यूच्यूअल फंड के बारे में अच्छे तरीके से जानकारी नहीं है. ऐसा नहीं है, कि म्यूचुअल फंड्स में सिर्फ आमिर को वर्ग के व्यक्ति ही निवेश कर सकते हैं. इसमें हर प्रकार का व्यक्ति बहुत ही आसानी से अपने पैसे को निवेश कर सकता है. मात्र ₹500 की न्यूनतम धनराशि के साथ आप म्यूचुअल फंड में निवेश कर सकते हैं. म्यूचुअल फंड में निवेश करने के लिए आपको शेयर मार्केट की किसी भी प्रकार की जानकारी की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि इसमें फंड को एक पेशेवर व्यक्ति के देखरेख में निवेश होता है.

म्यूच्यूअल फंड्स के प्रकार ?(Types of mutual fund)

निवेश एवं रिस्क के आधार पर मुख्य तीन प्रकार की मैचुअल फंड के होते हैं. जो इस प्रकार निम्नलिखित हैं.

1 . इक्विटी म्यूच्यूअल फंड(Equity mutual fund)

इक्विटी फंड अपने निवेशकों के पैसे को विभिन्न कंपनियों के शेयरों में निवेश करता है. इसमें आपको शेयर बाजार के भाव में गिरावट और बढ़ोतरी के ऊपर फायदा या नुकसान निर्धारित होता है. यह लंबे समय के निवेश के लिए काफी अच्छा विकल्प हो सकता है. इस फंड में हाई रिस्क होता है, और साथ ही में आपको लंबे समय में निवेश करने से मुनाफा भी अधिक प्राप्त होता है.

2 .डेब्ट म्युचुअल फंड (Debt mutual fund)

हम आपको बता दें कि डेट म्यूचुअल फंड उन लोगों के लिए बेहतर विकल्प है, जो कम रिस्क लेकर अपने पैसे को म्यूचुअल फंड में निवेश करना चाहते हैं. डेट म्यूचुअल फंड्स में निवेशकों के पैसे को सरकारी प्रतिभूतियों, कारपोरेट ब्रांड, ट्रेजरी बिल एवं अन्य प्रकार के सिक्योरिटी में निवेश किया जाता है. इक्विटी फंड के मुकाबले इसमें काफी कम रिस्क होता है. यह उन लोगों के लिए बहुत अच्छा है, जो छोटे समय के लिए अपने पैसे को निवेश करना चाहते हैं!

3 . बैलेंस और हाइब्रिड फंड (Balance and hybrid mutual fund)

इस फंड में निवेशकों को अपने पैसे को निवेश करने के लिए डेट और इक्विटी फंड का मिश्रण वाला विकल्प मिल जाता है. इसमें मध्यमवर्गीय वाला रिस्क होता है. डेट और इक्विटी का अनुपात फंड मैनेजर द्वारा निर्धारित होता है.

यह भी पढ़े :-
Where to Invest Your Money
* Online Paisa Kesa Kamaye
Online Business Ideas In hindi (ऑनलाइन व्यापार करने के टिप्स)
mutual fund

म्यूचुअल फंड में निवेश करने के क्या-क्या फायदे हो सकते हैं ?

. यदि आप अपने पैसे को म्यूचुअल फंड में निवेश करना चाहते हैं, तो आप निश्चित रूप से अपने पैसे को निवेश कर सकते हैं. क्योंकि इसमें आपके द्वारा निवेश किए गए पैसे को एक फंड मैनेजर अपनी देखरेख में आपके फंड को निवेश करता है. इस फंड मैनेजर का कार्य बाजार के भाव के हिसाब से फंड को संभालना होता है. सबसे बड़ी बात आपको म्यूच्यूअल फंड्स में निवेश करने के लिए शेयर बाजार कि कोई भी जानकारी की जरूरत नहीं होती है!

. यदि निवेशक चाहे तो म्यूचुअल फंड में न्यूनतम ₹500 की धनराशि के साथ अपने पैसे को म्यूचुअल फंड में निवेश कर सकता है. कम पूंजी के साथ निवेश करने का भी है, बेहतरीन विकल्प निवेशकों के लिए हो सकता है!

. यदि आप अपने पैसे को एफडी या बचत खाते में निवेश करते हैं, तो इससे बढ़िया आपको म्यूचुअल फंड में निवेश करने से लाभ प्राप्त हो सकता है. क्योंकि आपको एफडी और बचत खाते की तुलना में इसमें अधिक रिटर्न प्राप्त हो जाता है. यदि निवेशक अपने पैसे को 5 से 10 साल के लंबे समय के लिए निवेश करना चाहता है तो एक बार आपको म्यूचुअल फंड में अपने पैसे को निवेश करने का विचार जरूर करना चाहिए!

. म्यूचुअल फंड में सभी प्रकार की कंपनियां सेबी (SEBI ) के निगरानी में कार्य-विनीत होते हैं. जिसकी वजह से आपका निवेश किया हुआ पैसा सुरक्षित रहता है!

. हम बता दें मैचुअल पर अपने निवेशकों के पैसे को निवेश करने के लिए विभिन्न प्रकार की विभिन्नता प्रदान करता है. जिससे जोखिम की संभावनाएं अत्यधिक कम हो जाती हैं. जिससे निवेशकों को ज्यादा चिंता नहीं रहती अपने पैसे को निवेश करने के लिए, क्योंकि उनके पास ऑलरेडी बहुत सारे विकल्प मौजूद होते हैं!

Leave a Comment