Shayari

Dard Bhari Shayari in Hindi

Written by Abhilasha Kumari

__#1__

मोहब्बत मुकद्दर है कोई ख़्वाब नही।
ये वो अदा है जिसमें हर कोई कामयाब नही।
जिन्हें मिलती मंज़िल उंगलियों पे वो खुश है।
मगर जो पागल हुए उनका कोई हिसाब नही

Sad shayri

__#2__

फरयाद कर रही है तरसी होई निगह
देखे हुवे किसी को बहुत दिन गुजर गए

Sad shayri

__#3__

चाहा था जिसको टूटकर आखिर चला गया,
इस दिल मोहब्बत का मुसाफिर चला गया,
बेरंग आज तक है ये तस्वीर प्यार की,
पूरा किये बगैर दिल से हमसफर चला गया।

Sad shayri

__#4__

कौन किसे दिल में जगह देता है,
पेड़ भी अपने सूखे पत्ते गिरा देता है,
वाक़िफ़ हैं हम दुनिया के रिवाजों से,
जी भर जाए तो हर कोई भुला देता हैं।

Sad Shayri

__#5__

सिलसिले की उम्मीद थी उनसे ,
वही फाँसले बढ़ाते गए ,
हम तो पास आने की कोशिश में थे।
ना जाने क्यों वह हमसे दूरियाँ बढ़ाते गए।

Sad shayri

__#6__

मुझे भी आ गया जीना, ये जबसे चोट खाई है !
गमों संग अच्छा लगता है , खुशी लगती पराई है !!

Sad shayri

__#7__

वो राहें वो मंजर फिर से बुलाते हैं मुझे, साथ गुज़ारे पल बहुत याद आते हैं मुझे
जिस को भी चाहा दिल से समझा अपना, ना जाने क्यों राह में छोड़ जाते हैं मुझे

__#8__

भले लाख कर लो कोशिश भी मगर,दिल की बात कही न जायेगी मुझसे
ऐ मेरे हमदम न होना जुदा क भी,तेरी जुदाई सही न जायेंगी मुझसे |

Sad shayri

__#9__

हम गम ए जिंदगी के मारे हैं,
हर बाजी जीत के हारे हैं।
मेरी झोली में जितने भी पत्थर हैं,
सब मेरी मोहब्बत ने ही मुझे मारे हैं।।

Sad shayri

__#10__

सोचा था इस बार उनको भूल जाएंगे,
देखकर भी उनको अनदेखा कर जाएंगे।
पर जब-जब सामने आया चेहरा उनका,
सोचा इस बार देख ले अगली बार भूल जाएंगे।।

Sad shayri
यह भी पढ़े :- Best Motivational

__#11__

दर्द ए दिल ने देखो कितने गम झेले है,
मेरे मासूम दिल मे ज़ख़्मो के मेले है,
महफ़िल की ख्वाहिश थी मूझे यारो,
देखो ज़िंदगी मे आज हम कितने अकेले है!!

Sad shayri

__#12__

क्या बात है,
बड़े चुपचाप से बैठे हो.
कोई बात दिल पे लगी है
या दिल कही लगा बैठे हो…

Sad shayri

__#13__

ऐसा नहीं था की दिल में तेरी तस्वीर नहीं थी,
बस इतना समझ लो की
हाथो में तेरे नाम की लकीर नहीं थी….

Sad shayri

__#14__

तन्हा मौसम है और उदास ‪‎रात‬ है
वो मिल के बिछड़ गये ये ‪‎कैसी मुलाक़ात‬ है,
दिल धड़क तो रहा है मगर ‎आवाज़‬ नही है,
वो धड़कन भी साथ ले गये ‎कितनी अजीब‬ बात है!

Sad shayri

__#15__

किसी की याद को दिल में बसाकर रोए
किसी की तस्वीर को सीने से लगाकर रोए
जो वादा किया था हमने किसी से
हम उस वादे को निभाकर रोए

Sad shayri
यह भी पढ़े :- Christmas wishes

About the author

Abhilasha Kumari

Leave a Comment