Biography

apj abdul kalam

apj abdul kalam

आज के Blog में हम भारत के सबसे Famous राष्ट्रपति के बारे में बात करने जा रहे है जिनका नाम APJ Abdul Kalam है ! तथा हम ये भी जानेगे की किस तरह KALAM भारत के एक छोटे से गाँव से भारत के राष्ट्रपति बने तथा किस तरह उन्होंने अपनी पढाई के लिए उन्होंने संघर्ष किया है ! आपको इन सभी सवालों का जवाब इस Blog को पूरा पढ़ने पर मिल जायेगा !

भारत के सबसे Famous राष्ट्रपतियों में से एक राष्ट्रपति APJ ABDUL KALAM है! जिनको लोगो का राष्ट्रपति भी कहा जाता है! तथा एक ऐसे राष्ट्रपति, जिनके उम्मीदवार को न ही सिर्फ सत्ता पक्ष बल्कि विपक्ष ने भी समर्थन दिया था ! एक ऐसा व्यक्ति जो कभी भी राजनीति में नहीं आना चाहते थे ! लेकिन भारतीय इतिहास में ये एक ऐतिहासिक समय था जब APJ ABDUL KALAM जी भारत के राष्ट्रपति बने थे !

APJ ABDUL KALAM जी का जन्म 15 अक्टूबर 1931 में Dhanushkandi गाँव Rameshwaram तमिलनाड़ु में हुआ था! वो जन्म से एक मछुआरें थे तथा इनका पूरा नाम DR. ABUL PAKIR JAINULLABDDIN ABDUL KALAM है! APJ पाँच भाई बहन थे तथा इनको अपनी पढाई के लिए KALAM जी अखबार बेचते थे तथा उस पैसे से वो स्कूल की फीस देते थे KALAM जी ने अपनी आरंभिक शिक्षा RAMESHWARAM ELEMENTRY SCHOOL से की तथा B.SC उन्होंने ST.JOSEPH’S COLLEGE से पूरी की तथा इसके बाद MADRASS INSTITUTE OF TECHNOLOGY से AERONAUTICS में DIPLOMA किया !

1958 में KALAM जी, D.T.D में वैज्ञानिक के रूप में काम किया करते थे तथा INDIAN ARMY के लिए एक हेलीकॉप्टर भी तैयार किया ! इसके बाद KALAM जी ने ISRO ( INDIAN SPACE RESEARCH ORGANISATION ) में काम किया तथा 1969 में KALAM जी को S.L.V (ROHNI) के लिए PROJECT HEAD बने तथा इसको सफलतापूर्वक पृथ्वी के वायुमंडल में स्थापित किया ! जिसके लिए 1981 में एपीजे को पदम् भूषण दिया गया 1982 में उनको DRDO के लिए डायरेक्टर बना दिया गया तथा इनके कार्यकाल में (INTEGRATED GUIDED MISSILE DEVELOPMENT)  PROGRAMME  को शुरू किया तथा (AGNI ,PRITHAVI , व AAKASH) MISSILE के प्रक्षेपण में KALAM ने बहुत ही IMPORTANT भूमिका निभाई थी !

KALAM जी का नाम भारत के शीर्ष वैज्ञानिको में लिया जाता है तथा इनके अद्वितीय योगदान के लिए 1997 में एपीजे अब्दुल कलम जी को भारत के सबसे सर्वोच्च सम्मान BHARAT RATAN से सम्मानित किया गया था 18 जुलाई 2002 को KALAM जी भारत के 11वे राष्ट्रपति बने ! KALAM जी ,जो की तमिलनाड़ु के एक छोटे से गाँव में रहते थे ! अपनी कड़ी मेहनत , लगन की बदौलत भारत के सर्वोच्च पद पर पहुंच गए ! इनके जीवन से हमे बहुत प्रेरणा मिलती है कि कड़ी मेहनत के बल पर हम अपने जीवन में कुछ भी हासिल कर सकते है ! इन्होने देश के युवाओ को बहुत सीख दी ! देश के लोगो ने उन्हें MISSILE MAN का नाम दिया है राष्ट्रपति के पद छोड़ने के बाद वो INDIAN INSTITUTE OF SPACE SCIENCE AND TECHNOLOGY TRIVANTRUMPURAM के चांसलर बने !

27 जुलाई 2015 को SILONG में एक कार्यक्रम के दौरान तबियत ख़राब होने  पर उनको हॉस्पिटल में भर्ती किया गया ! जहा उनकी तबियत धीरे धीरे ख़राब होती गयी और अंततः भारत ने अपना एक बहुमूल्य रतन खो दिया !

KALAM जी ने बहुत सारी किताबें लिखी है उनमे से कुछ निम्न्लिखित है:-
  1. INDIA 2020-A VISION FOR THE NEW MILENIUM
  2. WINGS OF FIRE – AUTOBIOGRAPHY
  3. MISSION INDIA
KALAM जी को बहुत सारे Awards मिले है उनमे से कुछ निम्न्लिखित है :-
  1. 1981 – Padam Bhushan
  2. 1990 – Padam Vibhushan
  3. 1997 – Bharat Ratan
  4. 1997 – Indira Gandhi Awards For National Integraton
  5. 1998 – Veer Savarkar Awards
  6. 2002 – Ramanujan Awards , Alwars Research Centre
  7. 2011 – IEEE Honorary Membership

Leave a Comment

6 Comments